Saturday, June 19, 2021

 

 

 

शामली से हुआ ओवैसी का प्रचार शुरू, बोले – मुस्लिमों का डिस्पोजल ग्लास की तरह किया गया इस्तेमाल

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआइएमआइए) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार को अपनी पार्टी का प्रचार शुरू कर दिया हैं.

शुक्रवार को ओवैसी ने शामली में जनसभा की. ओवैसी को सुनने के लिए यहां बड़ी भीड़ जुटी. इस दौरान उन्होंने प्रदेश में मुसलमानों की बदहाली के लिए अखिलेश-मुलायम पर जमकर भड़ास निकाली. उन्होंने कहा कि सपा ने चुनाव से पहले जो अपनी घोषणाएं की थीं, उस पर उन्होंने अमल नहीं किया है. हमेशा भाजपा का डर दिखाकर मुसलमानों से वोट लिए हैं, अब मुसलमान किसी के बहकावे में नहीं आने वाला है.

उन्होंने आगे कहा कि समाजवादी पार्टी में किसी को भी 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगों में बहाए गए मुसलमानों के खून की परवाह नहीं है. ओवैसी ने चुनौती देते हुए कहा, “किसी माई के लाल में दम है जो मुझे यूपी आने से रोक सके, यूपी किसी के बाप का नहीं है.”

ओवैसी ने आगे कहा, “शामली में लूटा जा रहा है, दादरी में मुसलमानों को मार दिया, मुजफ्फरनगर में मां-बहनों का हुआ बलात्कार मगर किसी ने मदद नहीं की.” उन्होंने आगे कहा “इन्होंने क्या किया…? पांच लाख लेलो, 15 लाख लेलो… मुसलमानों के खून की कीमत बस इतनी है। इसलिए इस बार चुनाव में आप अपनी पार्टी को वोट करें.”.

एआइएमआइए नेता ने कहा कि अपनी नाकामी छिपाने के लिए सपा परिवार में नौटंकी चल रही है, बाप बेटे को नीचा और बेटा बाप को नीचा दिखाने पर तुला हुआ है. उत्तर-प्रदेश में यदि किसी का विकास हुआ है तो वो केवल यादव परिवार का विकास हुआ है.

उन्होंने कहा कि जो बाप-बेटा एक दूसरे के नहीं हुए, वह मुसलमानों के क्या होंगे. सपा शासन में हर कोई हलकान है. सपा ने सच्चर कमेटी की सिफारिश, मुस्लिम इलाकों में पाठशाला, मुस्लिम लड़कियों को तीस हजार की मदद, उर्द स्कूल खुलवाने के वायदों से मुकर गई। पुलिस भर्ती एवं पोस्टिंग में भेदभाव किया जा रहा है. औवेसी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मुस्लिमों का रहनुमा बनने पर सीधे बहस की चुनौती दी.

https://youtu.be/GVhf8I5CfgI

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles