जयपुर. जिले के चौमूं कस्बे में रविवार को डीजे पर बजाए गए आपत्तिजनक गाने के चलते दो समुदायों के बीच पत्थरबाजी हुई। जिसमे पुलिसकर्मी समेत आधा दर्जन लोग घायल हो गए। इस मामले में एसएचओ हेमराज सिंह गुर्जर की भूमिका सामने आ रही है।

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार चौमूं कस्बे में आगामी 5 अप्रेल को आयोजित होने वाली भगवा वाहन रैली और हिंदू समागम का कार्यक्रम आयोजित होने वाला है। इसके लिए हिंदू नववर्ष समारोह समिति के तत्वावधान में रविवार को गणेश निमंत्रण का कार्यक्रम रखा गया था।

रविवार को पैदल रैली के रुप में समिति के कार्यकर्ता सुबह करीब 10:30 बजे से प्राचीन गढ़गणेश मंदिर में निमंत्रण देकर लक्ष्मीनाथ जी का चौक होकर आमलिया में गंगामाता मंदिर की तरफ जा रहे थे। यह रैली रास्ते में पठानों के मोहल्ले के पास पहुंची।

up police inhuman face disclose

जहां पीवाला कुआं के पास दूसरे समुदाय के लोगों ने डीजे पर बज रहे आपत्तिजनक गाने का विरोध लिया। इससे दोनों समुदाय के लोगों के बीच विवाद हो गया। बवाल की सूचना पर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव घटनास्थल पर पहुंच गए। चौमू में पुलिस ने अघोषित कर्फ्यू लगा दिया। बताया जा रहा है कि पुलिस की लापरवाही से बवाल हुआ, जिससे लोगों में पुलिस के प्रति रोष व्याप्त है।

घटना के बाद कस्बे के बाजार में व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दी। तनाव के मद्देनजर कस्बे में अतिरिक्त बल तैनात किया गया।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन