हरियाणा की खट्टर सरकार के शासन मे दलितों का उत्पीड़न होना कोई नई बात नहीं है। लेकिन अब बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है।

बानगी गांव सागरपुर के स्कूल में दलित बच्चों को चप्पलों की माला पहनाकर परेड कराई गई। मामला मीडिया में आने के बाद अब इसे दबाने की कोशिश की जा रही है।

छात्रों का आरोप है कि उनको स्कूल के चक्कर भी लगवाए और धमकी भी दी कि अगर आगे से ऐसा किया तो फिर से सजा दी जाएगी। जिस महिला टीचर ने ऐसा किया उसका ताल्लुक रसुखदार परिवारों से है।

Symbolic

छात्रों का कहना है कि टीचर ने उसके बाल बांधने वाले रिबन से चप्पलों की माला बना कर उनके गले में डाली थी।रसाथ ही घटना के बारे में अपने परिजनों को न बताने की भी धमकी दी।

दूसरी और स्कूल की प्रिंसिपल का कहना है कि टीचर ने अपनी गलती को स्वीकार लिया है। प्रिंसिपल ने बताया, कुछ ग्रामीण उनके पास आए थे तो टीचर ने उनके सामने माफी मांगी थी और आगे से ऐसा ना करने की बात भी कही।