tax scam 696x471

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर में सामने आए 2100 करोड़ के टैक्स घोटाले को लेकर बड़े-बड़े नाम सामने आ सकते है. ऐसे में अब इस मामले से पीछा छुड़ाने के लिए सियासी खेल शुरू हो चूका है.

दरअसल, इंडियन टैक्नोमैक कंपनी पर विभाग की कार्रवाई से बीजेपी नेता खासे नाराज ह. ऐसे में अब दिग्गज भाजपा नेता राजीव बिंदल मामले की जांच करने वाले अधिकारी का तबादला कराने की कोशिशे शुरू कर दी है. जांच अधिकारी के तबादले के लिए विधानसभा अध्यक्ष राजीव बिंदल का डीओ नोट लगाया गया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब ऐसे में घोटाले का खुलासा करने वाले जांच अधिकारी के स्थान पर पुराने AETC को लगाने की तैयारी की जा रही है.  बता दें कि कुल करीब 6 हजार करोड़ के घोटाले में फंसी इंडियन टेक्नोमेक कंपनी के खिलाफ पांवटा साहिब थाने में विभिन्न धाराओं के तहत आपराधिक मामला दर्ज कर लिया गया है.

करीब 15 पन्नों की लंबी शिकायत में कंपनी प्रबंधक समेत अन्य 3 लोगों को नामजद किया गया है. एफआईआर में जिन लोगों को नामजद किया गया है, उसमें कंपनी के प्रबंध निदेशक राकेश कुमार शर्मा, सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी की बेटे विनय शर्मा रंगनाथन श्रीवासन और अश्विनी कुमार शामिल हैं.

पुलिस को सौंपी शिकायत में 2175 करोड़ 51 लाख के टेक्स्ट फ्रॉड की बात कही गई है और साथ ही अलग-अलग बैंकों के 2300 करोड़ के अलावा आयकर विभाग के 780 करोड़ रुपये की देनदारी कंपनी पर बताई गई है. कुल मिलाकर धोखाधड़ी का यह पूरा आंकड़ा 6 हजार करोड़ रुपये के पार का है.