पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब उर्रहमान लुधियानवी ने इत्तेहाद मिल्लत कौंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बरेलवी मरकज धर्म गुरु मौलाना तौकीर रजा के देवबंद जाने के फैसले की सराहना करते हुए कहा कि मौलाना तौकीर रज़ा ने जो पहल की है देवबंद वालों को भी इसका जवाब देना चाहिए और मिलकर काम करना चाहिए. देवबंदी उलेमाओं को भी बरेली जाना चाहिए.

उन्होंने आगामी विधानसभा चुनावों पर बात करते हुए कहा कि यूपी के विधान सभा चुनावों में मुसलमानों को एक राय होकर वोट देना चाहिए. यूपी के सियासी मुस्लिम बैठकर यह तय करें कि किस पार्टी को वोट देना है. मुस्लिम वोटर्स के बंट जाने से भाजपा को फायदा हो सकता है, जो हमारे लिए नुकसानदेह होगा.

उन्होंने आगे कहा कि  इस मुल्क में अगर मुसलमानों का वकार रखना है तो यह बरेलवी, देवबंदी, अहले हदीस वाला जो मसला है, इसको भूलकर हमें साथ खड़ा होना होगा। वो अपनी मस्जिद में जैसे नमाज़ पढ़ता है पढ़ने दीजिए. लेकिन जब कौम का मसला हो, किसी मुसलमान के उपर जुल्म हो रहा है, कहीं मस्जिद गिराई जा रही है, मुसलमानों पर गोलियां चलायी जा रही हैं तो उस वक्त सारी कौम को एक साथ खड़े होना चाहिए.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें