Monday, September 27, 2021

 

 

 

तमिलनाडू: 100 बकरों और 600 मुर्गों की बलि देकर मंदिर में बांटी गई ‘मटन बिरयानी’

- Advertisement -
- Advertisement -

तमिलनाडु के मदुरै स्थित मुनियांदी होटल मंदिर में प्रसाद के तौर पर मटन और चिकन बिरयानी बांटी जाती है।वड़क्कमपट्टी गांव में साल 1937 से प्रसाद के तौर पर लोगों को बिरयानी खिलाई जा रही है। इस साल लगभग 4 टन चावल, 100 बकरों और 600 मुर्गों का प्रयोग बिरयानी बनाने के लिए किया गया।

दरअसल, इस गांव के स्थानिय देवता मुनियांदी के नाम पर गुरुसामी नायडू ने मुनियांदी होटल की शुरुआत की। फिर एक के बाद एक मुनियांदी नाम से बाकी लोगों ने भी होटल खोले। ये सभी होटल अपने ग्राहकों को स्वादिष्ट नॉन वेज खिलाने के लिए जाने जाते हैं।

पूरे दक्षिण भारत में अब करीब 1500 मुनियांदी होटल हैं. होटलों के मालिक दो दिवसीय मुनियांदी फेस्टिवल में हर साल जुटते हैं, जहां प्रसाद में मटन बिरयानी बांटी जाती है। इस तरह से ये सभी दुकानदार अपने कुल देवता मुनियांदी को अपने काम की सफलता के लिए धन्यवाद देते हैं। हाल ही में हुए इस फेस्टिवल में करीब 8 हज़ार लोगों को मटन बिरयानी खिलाई गई।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार ये आयोजन शहर भर के होटल मालिकों ने किया था। यहां के राजविला होटल के मालिक एनपी रामास्वामी ने बताया कि हम रोज के पहले ग्राहक से हुई कमाई को अलग रख देते हैं। उसी से इकट्ठे हुए पैसे से ये आयोजन किया गया है। इस टेंपिल फेस्टिवल को मनाए जाने के पीछे मुन्यांदी नाम के देवता को धन्यवाद कहना होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles