Monday, October 18, 2021

 

 

 

‘ताजमहल देश की अद्वितीय कला, उसे विवाद में खींचना ठीक नहीं: राज्यपाल राम नाईक

- Advertisement -
- Advertisement -

ramnaik 1 650 010415091331

ताजमहल पर बीजेपी विधायक संगीत सोम के विवादित बयान के सामने आने के बाद बीजेपी के पसीनें छुट चुके है. ऐसे में अब बीजेपी डैमेज कण्ट्रोल की स्थिति में है. एक के बाद एक बीजेपी नेताओं के बदले-बदले सुर नजर आ रहे है.

इस मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहले ही सफाई दे चुके है, उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी देश विकास की कितनी ही चेष्टा करे, कितना ही प्रयत्न करे, लेकिन वो तब तक आगे नहीं बढ़ सकता, जब तक वो अपने इतिहास, अपनी विरासत पर गर्व करना नहीं जानता। अपनी विरासत को छोड़कर आगे बढऩे वाले देशों की पहचान खत्म होनी तय होती है।”

अब प्रदेश के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल को भारतीय सपूतों के खून पसीने की कमाई की उपाधि करार दिया. उन्होंने कहा, यह मायने नहीं रखता ताजमहल को किसने और क्यों बनवाया. एक ही बात मायने रखती है कि ताजमहल भारत माता के सपूतों की खून पसीने की कमाई से बना है.

सीएम ने कहा कि यह ऐतिहासिक धरोहर पूरी दुनिया में अपने वास्तु के लिए मशहूर है और यह हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है उन्होंने बताया, वे खुद खुद 26 अक्टूबर को आगरा जायेंगे.

वहीँ कानपुर के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के दी​क्षांत समारोह में राज्यपाल राम नाईक शिरकत करने पहुंचे राज्यपाल राम नाईक ने कहा है कि ताजमहल देश की अद्वितीय कला है, उसे विवाद में खींचना ठीक बात नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles