tajj

tajj

उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की पुस्तिका में विश्व धरोहर ताजमहल को शामिल ना करके योगी सरकार ने जो विवाद पैदा किया है, उसे बीजेपी शांत करने के बजाय और तुल देती जा रही है.

लाल बहादुर शास्त्री परास्नातक महाविद्यालय के विज्ञान परिसर में स्वच्छता पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीजेपी नेता सत्यदेव सिंह ने कहा कि ताजमहल भारत की पहचान नहीं है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि ताजमहल की कोई सांस्कृतिक पहचान नहीं है. उसमें मात्र एक कब्र है, जो देशवासियों को ना तो किसी आदर्श से जोड़ पाती है और ना ही हमें कोई उपलब्धि प्रदान करती है.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पिछले दिनों जारी पर्यटन मानचित्र वाली पुस्तिका से ताजमहल का नाम हटाए जाने को कुछ राजनीतिक पार्टियां अनावश्यक तूल दे रही हैं. उन्हें समझना चाहिए कि ताजमहल किसी के प्यार की निशानी के सिवाय और कुछ नहीं है.

पूर्व भाजपा सांसद ने कहा कि बाबर, अकबर और हुमायूं भारत के आदर्श कभी नहीं रहे. राम, कृष्ण और महाराणा प्रताप से हमारी पहचान है. वह हमारे आराध्य और आदर्श हैं.

Loading...