alw11

alw11

कथित गौरक्षा के नाम पर राजस्थान के अलवर में गौरक्षकों के हाथों मारे गए उमर के साथी ताहिर और जावेद को पुलिस ने गौ-तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है.

अलवर पुलिस का दावा है कि दोनों गौ-तस्कर है. दोनों के खिलाफ 7 मुकदमे पहले से दर्ज हैं. ताहिर पर 5 और जावेद पर दो केस दर्ज हैं. दोनों फिलहाल पुलिस रिमांड में है. ताहिर और जावेद दोनों उमर के साथ गौरक्षकों की हिंसा में घायल हुए थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा पुलिस ने उमर की हत्या के मामले में गिरफ्तार दो आरोपी भगवान सिंह गुर्जर और रामवीर को भी सोमवार को कोर्ट में पेश किया. दोनों को अदालत ने न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया.

ध्यान रहे 9 नवम्बर की देर रात अलवर जिले से भरतपुर स्थित अपने गांव से एक पिकअप में गाय लेकर जा रहे उमर, ताहिर और जावेद को रोक कर बेदर्दी के साथ मारपीट की थी.

ताहिर और जावेद तो भागने में कामयाब हो गए थे. लेकिन उमर गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. फिर उसके शव को रेल की पटरियों पर फेंक दिया गया था.

Loading...