यूपी के फूलपुर से पूर्व सांसद अतीक अहमद मारपीट के एक मामले में नैनी थाने में सरेंडर कर दिया. अतीक को कड़ी सुरक्षा के बीच अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (एसीजीएम) की अदालत में पेश किया गया जहां अदालत ने उसे जेल भेजने का आदेश दिया.

नैनी स्थित शियाट्स एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में अतीक अहमद और उनके समर्थकों पर अध्यापकों और कर्मचारियों के साथ मारपीट करने का आरोप हैं. इलाहाबाद के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार राय ने बताया, ‘अहमद को नैनी पुलिस थाने में गिरफ्तार किया गया, जहां आज दोपहर वह पिछले साल दिसंबर में एसएचआईएटीएस कृषि संस्थान के कर्मचारियों की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी के सिलसिले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए गए थे. उन्हें गिरफ्तार किया गया और जेल भेजने से पहले एक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया.

याद रहें कि इस मामलें में शुक्रवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई हुई थी. सुनवाई के दौरान अतीक अहमद की अभी तक गिरफ्तारी नहीं होने पर हाई कोर्ट ने नाराजगी जताई. जिसके बाद हाई कोर्ट के कड़े रूख को देखते हुए शनिवार को अतीक अहमद ने पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया.

हाई कोर्ट ने अहमद के आपराधिक इतिहास से जुड़े दस्तावेज भी तलब किए थे और आदेश दिया था कि मामले के सभी आरोपियों को मामले की अगली सुनवाई की तारीख 13 फरवरी तक गिरफ्तार किया जाए. याद रहें कि अतीक अहमद ने खुद कोर्ट में सरेंडर करने के लिये अर्जी दाखिल की थी.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें