hanuman 620x400

रामनवमी के मौके पर पश्चिम बंगाल सांप्रदायिकता की आग में झुलस उठा. जिसमे कई लोगों की जान तक गई. इस हिंसा में आसनओल में एक मस्जिद के इमाम ने अपना बेटा तक खो दिया.

इसी बीच पुरुलिया शहर के 21 नंबर वार्ड के कपूर बगान इलाके में सांप्रदायिक सौहार्द्र का एक अलग दृश्य देखा गया. इलाके के रहने वाले मुस्लिम युवक मोहम्मद पप्पू ने अपनी ओर से हनुमान मंदिर का जीर्णोद्धार कराया.

इस नए मंदिर का उद्घाटन रामनवमी के दिन ही हुआ. पप्पू ने कहा कि मेरे परिवार ने मुस्लिम-हिंदू का भेदभाव कभी नहीं सिखाया. हम सभी एक हैं और भारतवासी हैं. हमारे मोहल्ले में काफी पुराना एक बजरंगबली मंदिर था. इस मंदिर के जीर्णोद्धार के बारे में मैं काफी दिनों से सोच रहा था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मिसाल: मुस्लिम युवक ने कराया मंदिर का जीर्णोद्धार, जानें कहां

उन्होंने बताया, मैंने स्थानीय हिंदू दोस्तों एवं भाइयों से इस विषय पर विचार विमर्श किया. सभी ने मुझे मंदिर के जीर्णोद्धार की अनुमति दी. बस क्या था मैंने अपने अन्य हिंदू दोस्तों को साथ लेकर मंदिर का जीर्णोद्धार कार्य आरंभ किया.

इधर पुरुलिया म्यूनसिपैलिटी के अध्यक्ष ने कहा कि पप्पू ने जो कुछ किया है वो बंगाल के सभ्यता और संस्कृति को दिखलाता है. बता दें कि मोहम्मद पप्पू पेशे से  छोटे व्यवसायी हैं.

Loading...