screenshot 1

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग ज़िले में सोशल मीडिया पर दस वर्षीय हिंदू लड़की के रेप का फर्जी वीडियो वायरल सांप्रदायिक हिंसा फैलाई गई. इस दौरान मुस्लिमों के कारोबार को निशाना बनाया गया.

वायरल वीडियो में अफवाह फैलाई गई कि टाउन में जिस लड़की का रेप किया गया उसका आरोपी मुस्लिम शख्स है. जिसके बाद अगस्त्यमुनि में क्षेत्र में तनाव फ़ैल गया. इस दौरान भगवा संगठनों ने मुस्लिमों की 15 दुकानों को आग के हवाले कर दिया.

रुद्रप्रयाग के ज़िलाधिकारी मंगेश कुमार घिल्डियाल ने बीबीसी से कहा, “सोशल मीडिया पर फ़ैलाई गई एक फ़ेक न्यूज़ के बाद अगस्त्यमुनि क्षेत्र में तनाव हुआ है. फ़िलहाल स्थिति नियंत्रण में है.” उन्होंने कहा, “कुछ दुकानों से सामान बाहर फेंका गया है. इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है.”

आगजनी

जिलाधिकारी ने कहा कि पुलिस उस आदमी की तलाश कर रही है जिसने इस अफवाह को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था. उन्होंने कहा कि इस तरह की अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

बता दें कि प्रदेश भर में एक सुनियोजित साजिश के तहत अल्पसंख्यक समुदाय पर झूठा इल्जाम लगाकर या किसी भी मुद्दें को तूल देकर दक्षिणपंथी हिंदू संगठनों द्वारा बेकसूर मुस्लिमों को निशाना बनाया जा रहा है.

पिछले साल अक्टूबर में, रायवाला में हुई एक हत्या के बाद हिंदू समूहों ने ऋषिकेश से लेकर हरिद्वार तक मुस्लिम समुदाय की दुकानों और घरों पर हमले किए गए और तोड़-फोड़ की.

दुकानों में लूटपाट

वहीँ सितंबर 2017 में सात मुस्लिम युवाओं पर लड़कियों को छेड़ने का आरोप लगाकर उन्हें टिहड़ी गढ़वाल जिले के चंबा शहर में जेल में डाल दिया गया और हिंदू दक्षिणपंथी संगठन चंबा मार्केट को जबरदस्ती बंद कराकर इलाके में तनाव फैलाते रहे.

इससे पहले 8 सितंबर 2017 को टिहड़ी गढ़वाल के कीर्तिनगर के दो मुस्लिम युवाओं को बहुसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखने वाली लड़कियों के साथ देहरादून में घूमते हुए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. जिसके बाद दक्षिणपंथी समूह के सदस्यों ने मुस्लिम लड़कों से जुड़ी दुकानों में तोड़-फोड़ की.

जुलाई के महीने में दक्षिणपंथी सदस्यों ने पौढ़ी गढ़वाल जिले के सतपुली शहर में मुस्लिम समुदाय की दुकानों पर हमला कर दिया. इसके अलावा जुलाई में दक्षिणपंथी समूहों ने मसूरी में कश्मीरी व्यापारियों को निशाना बनाया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें