gopi pariya 620x400

दो अप्रैल को भारत बंद में शामिल होने वाले दलित युवको की एक हिट लिस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. जिसमें 83 दलितों के नाम है. लिस्ट में सबसे ऊपर 28 साल के युवा गोपी पेरिया का नाम है. जिसकी पांच गोलियां मारकर हत्या कर दी गई.

गोपी पिछले तीन दिनों से लापता था. पुलिस ने बसपा नेता पिता ताराचंद की शिकायत पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है इनमे से दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपियों में शोभापुर निवासी मनोज गुज्जर, आशीष गुज्जर, कपिल राणा औ गिरधारी का नाम शामिल है.सभी पर भारतीय दंड संहिता(आईपीसी) की धारा 302, 504 , 506 और एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गोपी के पिता ताराचंद और भाई प्रशांत का कहना है कि सोशल मीडिया पर लिस्ट वायरल होने के बाद इसमें नाम देखकर बाकी सभी दलित युवक भाग गए. लेकिन गोपी गांव में रहा.

गोपी के भाई ने प्रशांत ने बताया कि इस लिस्ट में सभी नाम युवाओं के थे. उन्हें लगा कि ये लिस्ट पुलिस की तरफ से तैयार की गई है. लेकिन बाद में पुलिस ने बताया कि उनकी तरफ से ऐसी कोई लिस्ट नहीं तैयार की गई थी.

मृतक के पिता की तहरीर के अनुसार, मनोज, आशीष और कपिल अपने दो अन्य साथियों सुनील तथा अनिल के साथ मौजूद थे. मनोज ने सबसे पहले गोपी के सीने में गोली मारी, फिर कपिल और आशीष ने गोली मारी. एक गोली सीने में दो, तीन गोलियां पीछे और पांचवीं गोली उसके हाथ में लगी.

Loading...