ambedkar statue 759 620x400

उत्तर प्रदेश में संविधान निर्माता बी.आर. आंबेडकर की प्रतिमा को तोड़े जाने का सिलसिला नहीं रुक रहा है. अब फिरोजाबाद में आंबेडकर की प्रतिमा तोड़े जाने का मामला सामने आया है.

आंबेडकर की प्रतिमा तोड़े जाने से इलाके में तनाव है. विरोध में स्थानीय लोगों ने मूर्ति के सामने बैठकर धरना दिया. घटना नागला झम्मन गांव की है. पुलिस को संदेह है कि कुछ असामाजिक तत्वों ने इलाके में तनाव पैदा करने के लिए रात के समय प्रतिमा को तोड़ दिया.

इससे पहले पिछले हफ्ते 5 अप्रैल को सिरसागंज इलाके में कुछ अराजक तत्वों ने आंबेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया था.सुबह खबर के फैलते ही पूरे गांव में तनाव फैल गया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा 8 मार्च को मेरठ के खुर्द गांव में 10 मार्च को आजमगढ़ जिले के राजापट्टी गांव में, 16 मार्च को उन्नाव के बांगरमऊ में, 19 मार्च को आजमगढ़ में, 31 मार्च को इलाहाबाद के त्रिवेणीपुरम में, इसके अलावा सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज के गौहनिया गांव में आंबेडकर की प्रतिमा तोड़ दी गई.

ख़ास बात ये है कि यूपी पुलिस ने 14 अप्रैल को दलित नेता के जन्म दिन से पहले प्रतिमाओं को तोड़े जाने के संभावित प्रयास को लेकर पूरे उत्तर प्रदेश में चेतावनी जारी की हुई. बावजूद ऐसी घटनाए पेश आ रही है.

Loading...