बीजेपी के वरिष्ट नेता सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा हाल ही में अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी को आतंकवाद का अड्डा बताया गया था. इस विवादित बयान के बाद मचा बवाल खत्म नहीं हुआ था कि अब आरएसएस ने AMU में शाखा लगाने की मांग कर नया विवाद पैदा कर दिया है.

आरएसएस के कार्यकर्ता ने यूनिवर्सिटी के कुलपति तारिक मंसूर को पत्र लिखकर परिसर में शाखा लगाने के लिए अनुमति मांगी है. संघ कार्यकर्ताओं का कहना है कि आरएसएस के बारे में छात्रों को सच जानना बहुत जरूरी है.

आरएसएस कार्यकर्ता मोहम्मद आमिर राशिद ने कहा कि एएमयू में आरएसएस की शाखा लगने से आए दिन होने वाले विवाद खत्म हो जाएंगे. एएमयू छात्रों का आरएसएस के लोगों के साथ उठना-बैठना होगा तो वह आरएसएस के विचारों को भी जान सकेंगे. इससे एएमयू में अच्छा माहौल बनेगा. इसलिए एएमयू में आरएसएस की शाखा लगनी चाहिए। इसलिए एएमयू परिसर में स्थान दिलाया जाए, जिससे आरएसएस की शाखा लग सके.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

The mission was developed by the Association for 2017 'trap'

इस बारें में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी ने कहा-यह एक शैक्षणिक संस्थान है न कि राजनीतिक. संघ की विचारधारा फूट डालने की है, हम कैंपस में उनके घुसने का विरोध करेंगे. अगर जरूरत पड़ी तो छात्र लड़ाई भी करेंगे.

हालांकि विश्वविद्यालय के स्टाफ शैफी किदवई ने बताया कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. अगर कोई प्रार्थना पत्र आया होगा तो कुलपति इस पर निर्णय लेंगे.

Loading...