fire

न्याय ने मिलने से दुखी यूपी के बाराबंकी रहने वाली एक बलात्कार पीड़िता ने लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह करने का प्रयास किया.

पीड़िता का कहना है कि उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ. लेकीन पुलिस आरोपियों के खिलाफ कई कार्रवाई नहीं कर रही. महिला करीब 40 फीसदी जल चुकी है. उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने अस्पताल पहुंच कर उसका बयान दर्ज किया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

महिला ने अपने बयान में कहा, करीब 2 साल पहले उसके साथ कुछ लोगों ने गैंगरेप किया था. उसने थाने तहरीर दी थी, लेकिन पुलिस ने छेड़छाड़ का केस दर्ज किया. रेप से जुड़ी धाराएं नहीं लगाई गईं. वह पुलिस से न्याय की गुहार लगाती रही, लेकिन उसकी बात को अनसुना कर दिया गया.

पुलिस ने न्याया न मिल पाने के कारण पीड़ित महिला कालीदास मार्ग पर स्थित सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास के पास पहुंची. वहां खुद को आग के हवाले कर दिया.

बताया जा रहा है कि महिला करीब 40 फीसदी से ज्यादा जल गई है, लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि हालात चिंताजनक है, लेकिन खतरे से बाहर है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है. पुलिस के मुताबिक इस मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें