gangrape 2 620x400

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की मासूम बच्ची के साथ मंदिर में हैवानियत करने वाले दरिंदों के समर्थन में तिरंगा रैली निकाली गई थी. जिसकी वजह से पुरे देश को दुनिया भर में शर्मिंदा होना पड़ा.

अब ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के उन्नाव में देखने को मिला. गैंगरेप के मामले में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के आरोपी विधायक को बचाने के लिए लोग सड़कों पर उतरे.

बड़े-बड़े बैनर लिए हुए जिन पर लिखा था, ‘हमारा विधायक निर्दोष है.’ के साथ लोग इस मामले को राजनीतिक षडयंत्र का हिस्सा बता रहे थे. यह रैली सोमवार (23 अप्रैल) को बांगरमऊ, सफीपुर, बीघापुर और उससे सटे इलाकों में निकाली गई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

kul

रैली का नेतृत्व नगर पंचायत अध्यक्ष अनुज कुमार दीक्षित ने किया, दीक्षित ने इस बारे में एक न्यूज वेबसाइट से कहा, “यह हमारे विधायक को बदनाम करने की राजनीतिक साजिश है. वह निर्दोष हैं. उन्हें गलत तरीके से फंसाया जा रहा है. ऐसे में हम इस मामले में निष्पक्ष और स्वतंत्र जांच की मांग करते हैं.”

बता दें कि कठुआ मामले में हिंदू एकता मंच ने आरोपियों के समर्थन में एक रैली निकाली थी. जिसमे बीजेपी के दो वरिष्ट नेता चौधरी लाल सिंह और चंद्र प्रकाश गंगा भी शामिल हुए थे. जिन्हें बाद में इस्तीफा देना पड़ा.

Loading...