asaram 1 620x400

नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में हिन्दू धर्मगुरु आसाराम को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा मिली है. बावजूद हिन्दू संतों का आसाराम पर विश्वास अब भी अडिग है.

दरअसल, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण आंदोलन से जुडी राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने बलात्कारी आसाराम को महात्मा बताया है. उन्होंने कहा है कि लोगों का अभी भी उनमें विश्वास बरकरार है.

गोपाल दास के अनुसार, जेल जाने में कोई नुकसान नहीं है, क्योंकि ग्रंथों के मुताबिक श्री कृष्ण भी जेल में पैदा हुए थे. दास ने कहा, “यह सब चलता रहेगा. जेल जाने पर भी लोगों का विश्वास उनमें कायम है. वह महात्मा हैं और जो कुछ भी हो रहा है, उसके पीछे उनका महात्मा होना ही वजह है.”

Sexual harassment case: godman's bail plea rejected

महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा, “आसाराम के जेल जाने से साधुओं और संतों की छवि को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. आरोप तो लगेंगे। मैं नहीं कह सकता कि ये सही हैं या गलत. मगर साधु-संतों को बदनाम करने के लिए इस तरह के आरोप उन पर मढ़े जाते हैं. लेकिन लोगों को आसाराम पर विश्वास है.”

राम मंदिर के मुद्दे पर उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का रुख सकारात्मक है और वे इसके निर्माण को सुनिश्चित कर सकते हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?