उत्तर प्रदेश के मेरठ में क्राइम ब्रांच ने 6 दलित युवकों को गिरफ्तार किया है. सभी पर कैराना लोकसभा उपचुनाव से पहले हिंसा फैलाने का आरोप है. ये गिरफ्तारी शनिवार को हुई है.

पुलिस का कहना है कि ये युवक कथित अत्याचार का सवर्णों की हत्या करके बदला लेना चाहते थे. दलित युवक सहारनपुर में भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई सचिन वालिया की मौत का बदला लेना चाहते है.

आरोप है कि सोशल मीडिया के जरिए इन दलित युवकों ने इस घटना को अंजाम देने के लिए लोगों को एकत्रित किया था. लेकिन पुलिस ने कुछ करने से पहले ही उन्हें पकड़ लिया.

electon

मेरठ पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार किया गया गया एक युवक हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किए गए बीएसपी के पूर्व विधायक योगेश वर्मा के हस्तिनापुर क्षेत्र के जकई का रहने वाला है.

बता दें कि भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष कमल वालिया के छोटे भाई सचिन वालिया की उनके गांव रामनगर में उस समय गोली लगने से मौत हो गई जब वह अपने घर लौट रहा था. आरोप है कि गांव में स्थित महाराणा प्रताप भवन में महाराणा प्रताप जयन्ती कार्यक्रम में आए युवकों ने सचिन की गोली मारकर हत्या की है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?