त्रिपुरा में सेना के जवान का आत्महत्या का दूसरा मामला सामने आया है. राजधानी अगरतला में  त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (TSR) के एक जवान ने अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर खुदखुशी कर ली.

मंगलवार सुबह ईस्ट अगरतला पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले घोष पारा इलाके में रहने वाले जवान 40-वर्षीय माणिक घोष ने अपनी सर्विस राइफल से अपनी पत्नी और दो बच्चों को मार डाला, और फिर उसी राइफल से आत्महत्या कर ली. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. तमाम बिंदुओं पर पड़ताल की जा रही है.

इससे पहले बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) के एक जवान की आत्महत्या का मामला सामने आया था. शनिवार रात को त्रिपुरा में अंतरराष्ट्रीय सीमा की अग्रिम चौकी पर बीएसएफ की 55वीं बटालियन में जवान शिशुपाल (28 साल) ने अपने 3 साथियों को मौत के घाट उतार कर खुदखुशी कर ली थी.

source: iStock

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक, उनाकोटी के एसपी लखी चौहान ने बताया कि बीएसएफ की 55वीं बटालियन में जवान शिशुपाल (28 साल) त्रिपुरा की मागुरुली बॉर्डर चौकी पर तैनात था. रात करीब 1 बजे शिशुपाल के ड्यूटी से कैम्प लौटने के बाद साथियों से किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ.

इसके बाद आरोपी शिशुपाल एक हेड कॉन्स्टेबल को सर्विस राइफल से गोली मारकर भागने लगा. कुछ साथियों ने पीछा किया तो आरोपी जवान ने उन पर भी अंधाधुंध फायरिंग की. इस दौरान दो जवान गंभीर रूप से जख्मी हो गए. थोड़ी देर बाद आरोपी जवान ने भी खुद को गोली मार ली. कैम्प में ड्यूटी पर तैनात संतरी ने आला अफसरों को गोलीबारी की सूचना दी, इसके बाद सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान चारों की मौत हो गई.