post-office-employee-arrested-by-police-for-spying-for-pakistan

तमिलनाडु के कुंबकोणम में राष्ट्रिय ध्वज जलाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया है. युवक की पहचान 34 वर्षीय प्रभु के रूप में हुई है.

दरअसल आरोपी मोदी सरकार से केंद्र कावेरी प्रबंधन बोर्ड (सीएमबी) का गठन करने में विफल रहने से खफा था. आरोपी मोदी और पलानीसामी विरोधी नारे लगाते हुए वायरल वीडियो में तिरंगे को जलाता हुआ दिख रहा है.

आरोपी कुंबकोणम में शिक्षक है. पुलिस अब उस जगह के बारे में भी जानकारी जुटा रही है जहां पर इस घटना को अंजाम दिया गया. साथ ही उस शख्स का पता लगाने की कोशिश कर रही है जिसने वीडियो को शूट किया.

Image result for TIRANGAबता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डीएमके की अगुवाई में विपक्षी पार्टियों ने सीएमबी के गठन की मांग को लेकर 5 अप्रैल को राज्यव्यापी बंद का आह्वान भी किया है.

डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर बंद के लिए समर्थन मांगा है. उन्होंने बंद की शुरुआत कावेरी डेल्टा क्षेत्र से करने की बात कही.  स्टालिन ने यह भी बताया कि तमिलनाडु में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके नेताओं के आने पर काले झंडे दिखाकर विरोध जताया जाएगा.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें