राजस्थान के अजमेर में हजरत ख्वाजा गरीब नवाज (रह.) के 806वें उर्स को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है. ऐसे में गुरुवार को नगर निगम की और से दरगाह बाजार में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की गई. जिसका स्थानीय लोगों ने जमकर विरोध किया.

निगम की इस कार्रवाई के खिलाफ व्यवसायियों ने अपने प्रतिष्ठान, दुकानें बन्द कर जमकर नारेबाजी की. साथ ही दुकानदारों की निगम के कर्मचारियों के साथ जमकर बहस भी हुई. ऐसे में निगम को रास्ते में रखे सामान को जब्त कर ले जाना पड़ा.

Loading...

निगम आयुक्त हिमांशु गुप्ता के निर्देशन में चली इस कार्रवाई में दुकानदारों को पहले नोटिस देकर अपने स्तर पर अतिक्रमण हटाने का समय दिया था. लेकिन उनके द्वारा अतिक्रमण नहीं हटाने के बाद निगम ने अपनी और से इस कार्रवाई को अंजाम दिया.

ख्वाजा के उर्स से पहले अतिक्रमण हटाया, विरोध में दरगाह बाजार बंद किया

हिमांशु गुप्ता ने कहा, उर्स के दौरान बाजार में हजारों की संख्या में जायरीन आएंगे इससे उनको आने जाने में तकलीफ नहीं हो इसको लेकर यह कार्रवाई की जा रही है. अगर इसके बावजूद भी दुकानदार नहीं मानते हैं तो उनके प्रतिष्ठान सीज किए जाएंगे.

बता दें कि हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 806वें उर्स की शुरूआत चांद दिखाई देने पर आगामी 19 मार्च से होगी. गरीब नवाज के उर्स का कुल 24 मार्च को होगा.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें