maharashtra euthenesia

मुंबई: महाराष्‍ट्र के बुलडाणा जिले के 91 किसानों ने इच्‍छामृत्‍यु की अनुमति मांगी हैं. किसानों ने राज्य सरकार की और से फसलों का सही दाम ने देने और जमीन अधिग्रहण का मुआबजा न देने को लेकर राज्यपाल को पत्र लिख इच्छामृत्यु की अनुमति देने की मांग की है.

समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, किसानों का कहना है कि उन्हें उनकी फसलों का उचित मूल्य नहीं दिया जा रहा है. साथ ही, सरकार ने हाईवे बनाने के लिए उनकी जिस जमीन का अधिग्रहण किया था, उसका भी पर्याप्त मुआवजा उन्हें अभी तक नहीं दिया गया है. जिसके चलते किसानों की मांग है कि या तो उनकी मांगे मानी जाएं या फिर उन्हें इच्छामृत्यु की अनुमति दी जाए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस सबंध में बुलधाना में सरकार के खिलाफ धरने पर भी बैठे हुए है. ध्यान रहे सुप्रीम कोर्ट ने एक हालिया फैसले में विशेष परिस्थितियों में इच्छा मृत्यु को ‘सम्मान के साथ मरने के अधिकार’ के रूप में मान्यता दी है.

वहीँ पिछले दिनों ही महाराष्ट्र में किसानों के द्वारा अपनी मांगों के समर्थन में नासिक से मुंबई के बीच 180 किलोमीटर लंबी पदयात्रा निकाली गई थी. जिसमें 30,000 से अधिक किसान महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों से यात्रा में शामिल हुए थे. जिसके बाद राज्य सरकार ने किसानों की मांगे पूरी करने का आश्वासन भी दिया था.

Loading...