masjid123

भोपाल। राजधानी भोपाल के पुराने शहर के वीआईपी रोड पर दिनदहाड़े मस्जिद में घुसकर मुअज्जिन का कत्ल करने वाले मामले को भोपाल पुलिस ने सुलझाने का दावा करते हुए कहा कि ये हत्या एक नाबालिग ने की है.

तलैया पुलिस के मुताबिक मूलतः शुजालपुर के रहने वाले नसीर मियां (65) गोहर महल से लगी अखाड़ा वाली मस्जिद में मुअज्जिन थे. वह करीब छह साल से मस्जिद में रह रहे थे. उनका काम पांचों वक्त की नमाज के समय अजान देने का था.

गुरुवार सुबह करीब 11 बजे किसी ने धारदार हथियार से नसीर मियां के गले पर वार कर दिया. मस्जिद में रहने वाले इमाम सत्तार खान की पत्नी ने नसीर मियां को खून से लथपथ देखा। घटना का पता चलते ही 108 एम्बुलेंस से उन्हें हमीदिया अस्पताल ले जाया गया. जहां चेक करने के बाद डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

source: iStock

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस हत्या के पीछे निजी कारण बता रही है. हालांकि आरोपी के नाबालिग होने के कारण पुलिस ने हत्या के कारण और उसके परिजनों की जानकारी देने से इंकार कर दिया. पुलिस ने आरोपी को बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया है.

आरोपी ने पुलिस को बताया की वह निसार को मस्जिद से हटाना चाहता था,लेकिन वह हटने को तैयार नहीं था. ऐसे में उसने मुअज्जिम को रास्ते से हटाने की साजिश रची और मौका मिलते ही पेचकस से गले पर वार कर के हत्या कर दी.

Loading...