तिरुवनंतपुरम। मलप्पुरम प्रेस क्लब में एक मलयालम दैनिक के फोटो पत्रकार पर कथित तौर पर हमला करने के सिलसिले में RSS के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने शुक्रवार (4 मई) को समाचार एजेंसी भाषा को बताया कि दिलीप कुमार (31) और शिबू (30) आरएसएस के कार्यकर्ता थे और गुरुवार की रात उन्हें गिरफ्तार किया गया.

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बताया कि सरकार ने इस घटना को ‘गंभीरता’ से लिया है. इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने फेसबुक पोस्ट में कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई शुरू करने के लिए पुलिस को निर्देश दिये.

उन्होंने कहा कि प्रेस की आजादी पर हमले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. आरोप है कि आरएसएस के कुछ कार्यकर्ता मलप्पुरम प्रेस क्लब में घुस आए थे और यहां एक फोटो जर्नलिस्ट पर हमला किया था.

पुलिस ने बताया कि दोनों कार्यकर्ताओं को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. फोटो पत्रकार की शिकायत पर आरएसएस के 10 कार्यकर्ताओं के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. फोटो पत्रकार के पैर में जख्म आया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पुलिस ने बताया कि कुछ दिन पहले जिले में आरएसएस के कार्यालय पर हमले के विरोध में आरएसएस के लगभग 150 कार्यकर्ताओं ने मार्च निकाला था. मार्च को देखकर दुपहिया सवार मौके से जाना चाहता था, लेकिन आरएसएस कार्यकर्ताओं ने उसे रोक लिया और वाहन की चाबी ले गए. यह देखकर पत्रकार ने अपने मोबाइल से इस घटना का वीडियो बना लिया. आरएसएस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने क्लब में घुसकर उन पर कथित तौर पर हमला किया और उनका फोन छीन लिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?