हरियाणा के यमुनानगर में एक बार फिर से कठुआ जैसी घटना सामने आई है. जिसने फिर से मानवता को शर्मसार करके रख दिया है. 14 साल की लड़की का अपहरण कर उसके साथ मंदिर में गैंगरेप किया गया.

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, गांव मोहड़ी निवासी नूरजहां ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह अपने पति के साथ लाडवा किसी काम से गई हुई थी, इसी दौरान रात के 2:00 बजे गांव मोदी निवासी मेहर लाल वह विकास उर्फ काला कश्यप ने अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर उसकी  14 वर्षीय बेटी फरजाना के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया.

आरोपी उसकी बेटी को जबरन घर से उठाकर शिव मंदिर के कमरे में ले गए. जिन्होंने एक-एक करके उसकी बेटी के साथ मुंह मैं कपड़ा ठूंसकर बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. जब वह लाडवा से वापस लौटे तो उनकी बेटी फरजाना ने उन्हें मामले की जानकारी दी, जिसके बाद उन्होंने पुलिस को इस बारे सूचित किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

temple loudspeaker 760 1515311794 618x347

पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ एफआईआर के बाद पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस के मुताबिक गैंगरेप करने के बाद बच्ची का सिर दीवार पर पटकर हत्या करने की कोशिश गई थी लेकिन वह बच गई. फिलहाल बच्ची अस्पताल में भर्ती है. पुलिस ने बच्ची का मेडिकल करवा दिया है. पुलिस के मुताबिक बच्ची के सिर पर गंभीर चोट है.

किशोरी से दुष्कर्म में शामिल मेहरलाल और विकास उर्फ काला शादीशुदा हैं. मेहरलाल का एक और विकास के दो बच्चे हैं. मेहरलाल नगरपालिका रादौर के पास कलर मी क्रेजी नाम से महिला और पुरुषों का सलून चलाता है. दुष्कर्म की घटना के बाद से मेहरलाल का सलून बंद है. दूसरा आरोपी विकास ट्रक चलाता है.

शनिवार को मामला दर्ज होने के बाद महिला थाना प्रभारी शीलावंती और जठलाना थाना प्रभारी दीदार सिंह ने टीमों के साथ गांव का दौरा किया. महिला पुलिस कर्मचारियों ने उस धार्मिक स्थल का दौरा किया जहां दुष्कर्म किया गया. पुलिस ने धार्मिक स्थल के कमरे से सबूत जुटाए हैं.

Loading...