हरियाणा के गुरुग्राम में बीते दिनों हिंदूवादी संगठनों की ओर से मुस्लिमों को शुक्रवार की नमाज पढ़े जाने से रोके जाने पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने मस्जिद और ईदगाह में नमाज पढ़ी जानी चाहिए.

एएनआई से बातचीत में खट्टर ने कहा, ‘यह हमारी ड्यूटी है कि कानून और व्यवस्था को बनाए रखा जाए. खुले में नमाज पढ़ने का प्रचलन बढ़ा है. सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़ने की बजाय मस्जिद और ईदगाह में जाना चाहिए.’

बता दें कि पिछले दिनों एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें कथित रूप से गुड़गांव के वजीराबाद गांव सार्वजनिक स्थलों पर नमाज पढ़ रहे लोगों के साथ बदसलूकी की थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

gurugram namaz 620x400

जिसके बाद सेक्टर 53 पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी और 6 लोगों को अरेस्ट किया गया था. बीते शुक्रवार को भी खुले में नमाज पढ़ने को लेकर विवाद हुआ था.

अल्पसंख्यक समुदाय के लोग वजीराबाद, अतुल कटारिया चौक, साइबर पार्क, बख्तावर चौक, आदि जगहों पर आज जुमे की नमाज के लिए जमा हुए थे. इन स्‍थानों पर विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, हिन्दू क्रांति दल, गौ रक्षक दल और शिवसेना के सदस्य भी पहुंच गए थे. इन संगठनों ने खुले में नमाज पढ़ने का विरोध किया था.