hng

हरियाणा के श्री राम मुलख कॉलेज में साबूल अंसारी नाम के छात्र ने आत्महत्या कर ली. छात्र ने आत्महत्या कॉलेज प्रशासन द्वारा होस्टल लेट आने की वजह से भारी भरकम फाइन लगाने पर की है.

छात्रों का कहना है कि अनेकों प्राइवेट कॉलेज और खासकर ये कॉलेज पैसे कमाने के लिए बेवजह फाइन लगा कर बच्चों को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने का काम कर रहे है. गरीब घर से होने के कारण साबूल इस फाइन का बोझ नहीं सह ना पाया और उसने अपनी जान दे दी.

कॉलेज के छात्रों ने बताया कि क्लास होस्टल में लेट आने से लेकर नॉनवेज खाने पर भी 500 से लेकर 80000 रुपये तक का फाइन लगाया जाता है. फाइन ना दे पाने वालों छात्रों पर अधिक फाइन लगाया जाता है. मोबाइल छीन लिया जाता है और परीक्षा देने से मना कर दिया जाता है.

साबूल अंसारी की मृत्यु की खबर मिलते ही एनएसयूआई से जुड़े छात्र सड़कों पर आ गए हैं. एनएसयूआई नेता सन्नी बादल के नेतृत्व में गुरुवार को सेक्टर-16ए स्थित पंडित जवाहर लाल नेहरू कॉलेज गेट पर प्रदर्शन कर बीजेपी सरकार का पुतला फूंका.

सन्नी बादल ने आरोप लगाया कि साबूल अंसारी पर कॉलेज प्रशासन ने हॉस्टल में लेट आने की वजह से भारी जुर्माना लगाया था. छात्र जुर्माना भरने में असमर्थ था और उसने आत्महत्या कर ली. आरोप है कि कई निजी कॉलेज पैसे कमाने के लिए उल्टा-सीधा जुर्माना लगा कर बच्चों को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने का काम कर रहे हैं.

एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष दिव्यांशु बुद्बिराजा का कहना है की कॉलेज प्रशासन की हद तो देखिए प्रशासन ने पुलिस के साथ मिलकर मीडिया से बात कर रहे छात्रों पर IPC की धारा 147,149,283,427 और एनएच एक्ट की धारा 8B के तहत मामला दर्ज करवा दिए.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?