कठुआ और उन्‍नाव गैंगरेप से अभी देश उबरा भी नहीं था की गुजरात के सूरत में 11 साल की मासूम के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है. बच्‍ची के साथ बलात्‍कार की आशंका जताई जा रही है.

समाचार एजंसी एएनआई के अनुसार, बच्‍ची के निजी अंगों को भी नुकसान पहुंचा है. अनुमान है कि बच्‍ची को गला घोंटकर मारने से पहले कम से कम एक सप्‍ताह तक यातनाएं दी गईं थीं क्‍योंकि उसके शरीर पर 1 दिन से लेकर 7 दिन पुराने घाव हैं.

सूरत के सिविल अस्‍पताल के फोरेंसिक हेड गणेश गोवेकर ने कहा कि बच्‍ची के शरीर पर अधिकतर चोटें किसी लकड़ी के हथियार से की गई प्रतीत होती हैं. उन्‍होंने यह भी कहा कि अंत में बच्‍ची का गला घोंट दिया गया. उन्‍होंने कहा, ”पोस्‍टमॉर्टम करने पर हमें उसके शरीर पर कई घाव मिले जो 1 से लेकर 7 दिन तक पुराने थे. बच्‍ची के शरीर पर 86 बाहरी घाव मिले.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस अधिकारी केबी झाला ने कहा, ”11 वर्षीय बच्‍ची का शव सुबह 6 के आसपास एक क्रिकेट ग्राउंड के पास की सड़क पर मिला था. वहां मॉर्निंग वॉक पर आए लोगों ने इसकी जानकारी दी… हम लड़की की पहचान करने करने की कोशिश कर रहे हैं.”

ध्यान रहे कठुआ और उन्‍नाव गैंगरेप की दोनों ही घटना बीजेपी शासित राज्यों से जुडी है. साथ ही दोनों ही मामलों में बीजेपी नेताओं के आरोपियों के समर्थन की बाते सामने आई है. ऐसे में यह घटना पीएम मोदी के गृह राज्य होने के कारण बड़ा मुद्दा बन सकती है.

Loading...