arjit shashwat

भागलपुर हिंसा मामले में रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे और भारतीय जनता पार्टी नेता अर्जित शाश्वत को गिरफ्तार कर लिया गया है. इस बात की जानकारी पटना पुलिस ने दी है.

भागलपुर के नाथनगर इलाके में सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में अभियुक्त अर्जित चौबे फरार चल रहा था. अदालत ने 24 मार्च को उस गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था.

पटना ज़िले के सीनियर एसपी मनु महाराज ने बीबीसी को बताया, ”अर्जित को पटना के स्टेशन गोलंबर के पास रात करीब पौने एक बजे गिरफ़्तार किया गया. आगे की कार्रवाई के लिए पुलिस उन्हें भागलपुर ले जाएगी.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

bhag1

बता दें कि भागलपुर में नाथनगर उपद्रव मामले में प्रभारी जिला जज कोर्ट ने अर्जित शाश्वत चौबे का अग्रिम जमानत अर्जी नामंजूर कर दी थी. इसके तुरंत बाद नाथनगर पुलिस ने एसीजेएम कोर्ट में इश्तेहार एवं कुर्की के लिए अर्जी दाखिल कर दी.

शनिवार शाम नाथनगर इंस्पेक्टर मो. जनीफउद्दीन कांड संख्या 176/018 के आरोपियों के खिलाफ अर्जी कोर्ट लेकर पहुंचे थे. इंस्पेक्टर ने अर्जी में कहा है कि कोर्ट से वारंट निकलने के बाद भी आरोपी फरार है. इससे विधि व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो रही है.

बता दें कि हिंदू नववर्ष के मौके पर बिना पुलिस परमिशन केबीती 17 मार्च को भारतीय जनता पार्टी ने भागलपुर के सैंडिस कंपाउंड से जुलूस निकाला था जिसका नेतृत्व अर्जित कर रहे थे.

जब यह जुलुस भागलपुर के नाथनगर पहुंचा तो कथित रुप से मुस्लिम इलाके में आपत्तिजनक गाने और नारे लगाए गए. जिसके बाद दो पक्षों के बीच पत्थरबाज़ी, आगजनी और हिंसा की घटना सामने आई. इसमें पुलिस के एक जवान समेत कुछ लोग घायल भी हुए थे.