uu

आगरा: आगरामें एक चपरासी का वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमे वह एक सिविल जज को थूक वाला पानी पिला रहा है. वीडियो के वायरल होने के बाद आरोपित चपरासी को निलंबित कर दिया गया और इस मामले की जांच बैठा दी गई.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी चपरासी ने महिला सिविल जज को पानी पिलाने से पहले उसमें थूक दिया. घटना की पुष्टि खुद सेशन कोर्ट जज पीके सिंह ने की है.

वीडियो में नजर आ रहा है कि दफ्तर का एक चपरासी महिला जज के लिए वाटर बोतल से एक ग्लास में पानी निकालता है. फिर कुछ सेकेंड इधर-उधर देखने के बाद वो उस पानी भरे ग्लास में थूक देता है. इसके बाद वो चुपचाप उस ग्लास को लेकर उसे महिला जज को देने के लिए वहां से चला जाता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस घटना को लेकर चपरासी यूनियन के अध्यक्ष उमा शंकर यादव ने कहा कि इस तरह की घटना बहुत ही घटिया है, जिसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि आरोपी चपरासी विकास गुप्ता की मानसिक हालत ठीक नहीं है. पिछले दो महीने से उसे प्रताड़ित किया जा रहा है. फिलहाल पूरे मामले की जांच जारी है.

बता दें कि इससे पहले हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से एक ऐसी ही खबर आई थी जब एक न्यायिक अफसर के पीने के पानी में एक चपरासी ने मूत्र मिला दिया था. बाद में इस बात का खुलासा होने पर आरोपी चपरासी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था.

Loading...