सीतामढ़ी: लूट के आरोप में हिरासत में दो मुस्लिम युवकों की पीट-पीट कर ह’त्या करने के मामले में आरोपी पुलिसकर्मी फरार हो गया है। जिसके बाद इन लोगों की गिरफ्तारी के लिए विशेष पुलिस दल का गठन किया गया है।

जानकारी के अनुसार, पूर्वी चंपारण जिले के चकिया थाने के राम विहार निवासी मनाउल के पुत्र गुफरान (28) और मुलाजिम के पुत्र तस्लीम आलम (30) को पुलिस ने दोनों को 20 फरवरी को सीतामढ़ी मुजफ्फरपुर हाईवे पर लूट के दौरान मुजफ्फरपुर के औराई थाना क्षेत्र के जीवाजोर गांव निवासी सत्यनारायण साह के पुत्र राकेश कुमार की गोली मार हत्या कर बाइक लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

Loading...

इस दौरान दोनों की डुमरा थाना में पिटाई की गई। बाद में स्थिति बिगड़ने पर बुधवार की शाम 4:25 बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया वहां चिकित्सकों ने 5:05 गुफरान और 5:20 तस्लीम को मृत घोषित कर दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी अमर केस जीने डुमरा थाना अध्यक्ष चंद्र भूषण कुमार सिंह समेत आठ पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था। साथ ही इनको गिरफ्तार कर रून्नीसैदपुर थाने में रखा गया। लेकिन वहां के थाने थाना प्रभारी की मिलीभगत से वो फ़रार हो गए।

हालांकि वहां के थाना प्रभारी को भी अब निलंबित कर दिया गया है इस मामले में चंद्रभूषण सिंह के अलावा सात और पुलिसकर्मियों को आरोपी बनाया गया और सभी फ़रार हैं इनमें से तो कई पुलिसवाले सरकारी हथियार के साथ नदारद हैं। इस घटना के बाद ज़िले के पुलिस अधीक्षक डी अमर केस का तबादला कर दिया गया है और उनकी जगह नए एसपी की नियुक्ति हुई है।

इधर एसडीपीओ सदर ने पुलिस की पिटाई से मौत की बात को खारिज कर दिया है कहा है कि दोनों से हाजत में मिलने कई लोग आए थे किसी मुलाकाती द्वारा कुछ खिला दिया गया होगा बताया कि मामला संदेह स्पसद हैं पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई होगी।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें