सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना करते हुए बीजेपी नेता संगीत सोम के समर्थक मेरठ के सरधना में एक विडियो क्लिप के जरिए प्रचार कर सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश कर रहे थे. स्थानीय लोगों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर वीडियो क्लिप जब्त कर ली हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, संगीत सोम की एक विडियो क्लिप जिसमे उन्हें एक नायक की तरह पेश करते हुए हिन्दू धर्म का ठेकेदार बताते की कोशिश की गई हैं. इस विडियो में सोम हिंदु स्वाभिमान का हवाला देते हुए दादरी में अख्लाक की हत्या को जायज़ ठहरा रहे हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कुछ लोगों ने वाहन में लगी एलसीडी पर विवादित वीडियो क्लिप दिखाए जाने की प्रशासन से शिकायत की थी. जिसके बाद पुलिस ने वीडियो क्लिप को जब्त कर दो लोगों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है.

एसडीएम राकेश कुमार सिंह ने बताया कि भाजपा के प्रचार वाहन पर वीडियो क्लिप चलाने की अनुमति नहीं थी. जिसके चलते दो लोगो पर आचार सहिंता का मुकदमा भी दर्ज किया गया.

एसडीएम ने बताया कि गाड़ी के जरिये प्रचार करने की परमिशन लेने आये चंद्रशेखर और ड्राइवर वीरेंद्र के खिलाफ आचार सहिंता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया. हालांकि इस पूरे मामले में पुलिस और प्रसाशनिक अफसरों पर भी दवाब देखा जा सकता है. प्रसाशन की टीम ने बीजेपी प्रत्याशी संगीत सोम को इस मुकदमे में नामजद नहीं किया.

Loading...