Sunday, October 24, 2021

 

 

 

टेप की जांच के लिए एसआईटी का गठन, कांग्रेस एमएलए का दावा – संजय जैन ने दिया था वसुंधरा से मिलने का प्रस्ताव

- Advertisement -
- Advertisement -

विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़े औडियो टेप के सामने आने के बाद राजस्थान की सियासत में भूचाल आ गया है। ऐसे में अब गहलोत सरकार ने जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

एसआईटी की इस टीम में एसआईटी के मुखिया सीआईडी के एसपी विकास शर्मा होंगे। इसके अलावा एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी), स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और एंटी टेररिस्ट स्क्वायड (एटीएस) के एसपी स्तर के अधिकारी भी होंगे।बता दें कि इन टेप में बीजेपी नेता और केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह की आवाज होने का दावा किया जा रहा है।

इस बीच अब कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुड़ा ने दावा किया कि एसओजी द्वारा गिरफ्तार किए गए शख्स संजय जैन ने करीब 8 महीने पहले मुलाकात की थी, जैन ने उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे व अन्य नेताओं से मिलने के लिए कहा था।

गुड़ा ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में कहा, ‘संजय जैन 8 महीने पहले मेरे पास आए थे। उन्होंने मुझे वसुंधरा जी व अन्य लोगों से मिलने के लिए कहा था। उनकी तरह दूसरे एजेंट भी हैं लेकिन वो लोग अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हुए। संजय जैन काफी समय से एक्टिव थे।’

वहीं अब राजस्थान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि बीजेपी राजस्थान में अविश्वास प्रस्ताव पेश नहीं करेगी। फिलहाल बीजेपी नेतृत्व ने तय किया है कि पूरे घटनाक्रम पर नजर रखी जाएगी और आगे के डेवेलपमेंट के बाद ही कोई कदम उठाया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles