भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट मामलें में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दावों के उलट गिरफ्तार संदिग्धों का आईएसआईएस से कोई सबंध नहीं निकला हैं. हालांकि वे केवल आईएसआईएस से प्रभावित बताए जा रहे हैं.

दरअसल ब्लास्ट के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि ट्रेन में हुए धमाके ISIS के आतंकियों ने किए थे. आतंकियों ने बम की तस्वीरें सीरिया भी भेजी थीं. लेकिन अब मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक (खुफिया) मकरंद देउस्कर ने इस बात को सिरे से नकार दिया हैं.

उन्होंने गुरुवार को कहा, ‘‘गिरफ्तार किये गये इन युवकों ने पूछताछ के दौरान बताया कि वे आईएसआईएस की विचारधारा से प्रभावित हैं और बम बनाने का तरीका ऑनलाइन मैग्जीन ‘इंस्पायर’ से सीखा था. इसके अलावा, वे इंटरनेट पर आईएसआईएस का साहित्य भी पढ़ते थे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इससे साबित होता है कि वे आईएसआईएस की विचारधारा से प्रभावित थे और उग्रवादी थे.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अधिकारी ने यह भी कहा कि पकड़े गए लोगों का सीरिया से क्या संबंध था इसके बारे में फिलहाल साफ कुछ नहीं है क्योंकि हैंडलर्स अक्सर अपनी लोकेशन को लेकर चकमा देते हैं. पुलिस को पकड़े गए लोगों के पास से कपड़े, यात्रा के सामान और पैसों के अलावा कुछ भी आपत्तीजनक सामान नहीं मिला.’ इसके अलावा पुलिस को इंटरनेशनल तौर पर किए गए किसी फंड ट्रांसफर की जानकारी भी नहीं मिली है.

Loading...