कांग्रेसी नेता शशि थरूर के हिन्दू पाकिस्तान वाले बयान को लेकर हंगामा बरपा हुआ है। आरएसएस से लेकर बीजेपी तक छोटे-बड़े नेता थरूर पर भड़के हुए है। लेकिन थरूर अब भी अपने बयान पर कायम है।

थरूर ने अपने बयान को लेकर कहा कि दीन दयाल उपाध्याय को फॉलो करने का दावा करने वाली बीजेपी देश को हिंदू पाकिस्तान बनाने की ही कोशिश करेगी। उन्होने कहा, बीजेपी नेता सावरकर,गोवलवकर और दीन दयाल उपाध्याय को अपना मेंटर मानते हैं। ये लोग संविधान को नहीं मानते थे।

थरूर ने कहा कि आरएसएस ने हिंदू राष्ट्र का सिद्धांत दिया हुआ है। सबसे पहले सावरकर ने ऐसा लिखा और दीन दयाल उपाध्याय ने इसको आगे बढ़ाया। अब प्रधानमंत्री ने तो हर मंत्रालय को निर्देश दिए हैं कि दीन दयाल उपाध्याय को लेकर कार्यक्रम किए जाएं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

bjp2 kvwe 621x414@livemint

कॉंग्रेस नेता ने कहा, दीन दयाल उपाध्याय भारत के संविधान को नकारते थे। वह सावरकर और गोलवलकर को फॉलो करते थे। वह कहते थे कि भारत का मतलब किसी क्षेत्र से न होकर हिंदुओं से है। यहां रहने वाले दूसरे धर्म के लोग बाहरी हैं। यही विचार मौजूदा सरकार के हैं।

उन्होने कहा कि अब अगर बीजेपी सरकार यह कहती है कि वह इन लोगों के विचारों को नहीं मानती है और वे अब इस देश को हिंदू राष्ट्र नहीं बनाना चाहते हैं तो वे मेरी आलोचना कर सकते हैं। थरूर ने कहा कि अगर 2019 में बीजेपी की जीत होगी तो हमारा देश ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा। उनका इस बयान से पीछे हटने का कोई इरादा नहीं है और वह इसे बार-बार दोहराते रहेंगे।

Loading...