गुजरात: स्कूलों में अब यस सर के बजाय ‘जय हिंद’ या ‘जय भारत’ बोलना होगा

govt schools

गांधीनगर.   गुजरात में स्कूली बच्चों को के हाजिरी की प्रक्रिया में बदलाव पर विचार किया जा रहा है। जल्द ही स्कूलों में बच्चे हाजिरी लगाए जाने के समय ‘हाजिर हैं’, ‘जी सर’, ‘यस सर’ और ‘प्रेजेंट सर’ जैसे संबोधनों की जगह ‘जय भारत’ या ‘जय हिंद’ बोलते नजर आएंगे।

राज्य सरकार के शिक्षा मंत्री भूपेन्द्र सिंह चुडासमा का कहना है कि छात्रों में देशभक्ति की भावना लाने के लिये ये एक श्रेष्ठ रास्ता है। इस बदलाव को लाने के लिए सरकार सोच रही है। इसे लेकर व‍िभाग में चर्चा भी हो चुकी है। बहुत जल्द नोटि‍फिकेशन के तौर पर जारी कर स्कूल में लागू किया जाएगा।

सरकार बच्चों में देशप्रेम की भावना को जगाने के लिये इस प्रयोग को लागू करने का प्लान बना रही है। हालांक‍ि शिक्षा विभाग के जानकार सरकार के इस कदम पर कह रहे हैं क‍ि सरकार को देशभक्ति के साथ-साथ शिक्षा के स्तर को सुधारना चाह‍िए।

प्राथमिक शिक्षा निदेशालय और गुजरात माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (GSHSEB) की ओर से अधिसूचना की कॉपियों जिला शिक्षा अधिकारियों को भेज दी गई हैं और कहा गया है कि इसका एक जनवरी से पालन किया जाए।

राजस्थान के कई स्कूलों में जय हिंद बोलते हैं बच्चे
राजस्थान के झालोद में शिक्षक संदीप जोशी ने हाजिरी के वक्त संबोधन में बदलाव किया था। उन्होंने यस सर, प्रेजेंट सर की जगह बच्चों से जय हिंद, जय भारत बुलवाना शुरू किया था। 

विज्ञापन