कैराना से समाजवादी पार्टी विधायक नाहिद हसन को भेजा गया जेल

समाजवादी पार्टी के पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मजबूत नेता माने जाने वाले नाहिद हसन को शामली से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन को धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

बता दें मामले में सपा विधायक सहित 9 लोगों के खिलाफ़ मुकदमा चल रहा है। शुक्रवार को नाहिद हसन फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश हुए थे और जमान अर्जी दी थी। जज ने उनकी जमानत याचिका खारिज करते हुए जेल भेजने के आदेश दिए। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच नाहिद हसन को कोर्ट से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

इससे पहले अंतरिम जमानत मिलने पर विधायक नाहिद हसन ने कहा था कि न्याय की जीत हुई है। इस मामले में सपा विधायक चौधरी नाहिद हसन के खिलाफ कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था। जिला न्यायालय से अंतरिम जमानत अर्जी खारिज होने के बाद उन्होंने हाईकोर्ट की शरण ली थी। हाईकोर्ट से एक माह के अंदर निचली अदालत में पेश होने के आदेश दिए गए थे। विधायक ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर निचली अदालत में पेश होने के लिए एक माह का समय और मांगा था। सुप्रीम कोर्ट ने विधायक नाहिद हसन को एक माह का समय और दे दिया था।

बता दें कि यह मामला जनपद शामली की कैराना कोतवाली क्षेत्र का है। यहां कैराना क्षेत्र से सपा विधायक नाहिद हसन के ऊपर कैराना कस्बे के ही रहने वाले मोहम्मद अली नाम के एक युवक ने फोजदारी यानी 420 का मुकदमा दर्ज कराया हुआ था। यह मुकदमा नाहिद के विरुद्ध करीब 2 वर्ष पूर्व कैराना कोतवाली में दर्ज हुआ था। वादी मोहम्मद अली जिन्ना का आरोप था कि उसके साथ जमीन के लेनदेन के मामले में करीब 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुई है।

हालांकि नाहिद हसन के वकील इंतजार अहमद ने बताया कि सपा विधायक के विरुद्ध उक्त युवक ने फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है, जिसमें सपा विधायक की आज अंतरिम जमानत खारिज कर दी गई और उनको जेल भेज दिया गया। अब वह उच्च कोर्ट में विधायक की जमानत की अर्जी डालेंगे।

विज्ञापन