Monday, October 18, 2021

 

 

 

दिल्ली के रोहिणी पार्क में भगवा संगठनों ने मजार को मंदिर में बदल दिया

- Advertisement -
- Advertisement -

23172729 1560857817270773 6269179764135318781 n

राजधानी दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 9 में स्थित अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक स्थल को तोड़ मंदिर में तब्दील कर दिया गया.

20 वर्षों से ‘सईद गुरु डेरे बाबा’ की मजार की देखरेख में लगे 55 वर्षीय दिलावर खान का कहना है कि वे 31 मई को जब वे सुबह आए तो उनके साथ मारपीट की गई और मजार को तोड़ दिया गया. इस मजार को गुर्गेर वेले बाबा’ के मंदिर में बदल दिया गया.

खान ने कहा कि  वह आमतौर पर हर गुरुवार को मजार पर आते हैं. उनका कहना है कि गुरुवार को यहाँ बड़ी तादाद में लोग आते है. जिनका मानना है कि उनकी यहाँ से मुरादे पूरी होती है. लेकिन जब पांच महीनों के बाद उन्होंने यहाँ का दौरा किया तो सब कुछ बदल गया.

उन्होंने बताया कि मैं व्यक्तिगत तौर पर सईद पीर बाबा के इतिहास के बारें में नहीं जानता हूं, लेकिन जो व्यक्ति मेरे सामने बैठता था वह एक परिचित था. मुझे उसका नाम याद नहीं है उनके मरने के बाद, मेने यहाँ बैठना शुरू कर दिया.

घटना के दिन को याद करते हुए, श्री खान कहते हैं: “31 मई की सुबह मैं मजार के पास गया और पाया कि पत्थर की पटिया आंशिक रूप से टूट गई थी. उन लोगों ने मुझ से रोका और पिटा. उन्होंने कहा कि करीब 30 लोगों ने उन्हें जगह छोड़ने के लिए धमकी दी और उन्हें बताया कि यह हिंदू बाबा’ थे.

इस मामले में प्रशांत विहार पुलिस थाने में उनका बयान भी दर्ज किया गया. साथ ही उनकी शिकायत के आधार पर, एक प्राथमिकी भी दर्ज की गई. हालांकि बयानों में खान के साथ मारपीट का उल्लेख नहीं है. एफआईआर के अनुसार,  खान द्वारा किए गए दावों को पुलिस द्वारा सत्यापित किया गया, जिसमें पाया गया कि यह वास्तव में पिछले 20-22 वर्षों से यहं एक मजार था.

पुलिस ने प्रारंभिक जांच के बाद, धारा 295 तहत एक मामला दर्ज किया. इस मामले में पुलिस उपायुक्त (रोहिणी) ऋषि पाल ने मामले में कार्रवाई की जानकारी को साझा करने से इनकार कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles