socha

socha

लखनऊ में हज हाउस को भगवा रंग में रंगने का विवाद खत्म नहीं हुआ था कि अब योगी सरकार फिर से इस भगवा रंग की वजह से मुसीबत में आ गई है. इस बार योगी सरकार शोचालयों पर भगवा रंग कराए जाने से निशाने पर है.

सरकारी कार्यालयों, बसों, स्कूलों, पुलिस थानों आदि को भगवा रंगों में रंगे जाने के बाद अब योगी सरकार स्वच्छ भारत अभियान के तहत बने शौचालयों को भगवा रंग में रंग रही है. ध्यान रहे भगवा रंग को हिन्दू धर्म में पवित्र माना जाता है. जिसे मंदिरों या धार्मिक स्थलों पर किया जाता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इटावा के अमृतपुर गांव में 100 शौचालयों पर भगवा रंग कराया गया है. जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो रही है. अमृतपुर गांव के प्रधान वेद पाल ने पत्रकारों से बताया, “350 में से 100 शौचालयों को भगवा कर दिया गया है और बाकियों को भी जल्द किया जाएगा.

हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि भगवा करने का फैसला किसी दबाव में नहीं लिया गया है. हम जानते हैं कि ये सीएम योगी का पसंदीदा रंग है. ग्रामीणों को भरोसा है कि भगवा शौचालय देखकर राज्य सरकार गांव में विकास कार्य में तेजी लाएगी.

ध्यान रहे 5 जनवरी को असेंबली के नजदीक हज हाउस की दीवारों को भगवा कर दिया गया था. जिसके बाद विवाद बढ़ने पर फिर से रंग बदल दिया गया था.