godman sadhu generic istock 650x400 41457946089

बांदा। देवी भक्ति में लीन एक साधु ने कामेश्वर मंदिर में ब्लेड से अपने गुप्तांग को काट दिया। उसे सीएचसी से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार, गुरुवार की दोपहर मैदानी बाबा नाम से मशहूर 45 वर्षीय संत ने देवी पूजा के बाद ब्लेड से गु’प्तांग को काट लिया। वह कमासिन कस्बे में सड़क किनारे खाली पड़ी सरकारी जमीन में काफी समय से झोपड़ी बनाकर रह रहा था। उसने नौ दिन व्रत रखे थे।

बताया जाता है कि इसके पूर्व बाबा ने जनवरी 2018 में अपनी जीभ काटकर चढ़ा दी थी। गुरुवार को कुछ लोगों ने गांव की महिलाओं से कथित रूप से प्रेम प्रसंग का उस पर लांछन लगाया। बदनामी से आहत होकर उसने ब्लेड से अपना गु’प्तांग काट लिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

चिकित्सकों का कहना है कि साधु का गु’प्तांग 80 फीसदी शरीर से अलग हो गया है। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है और उनका इलाज जिले के सरकारी अस्पताल में चल रहा है।  कमासिन पुलिस ने बताया कि अस्पताल में दिए गए बयान में साधु ने कस्बे के दो लोगों द्वारा मानसिक प्रताड़ना देने का आरोप लगाया है, जिन पर कार्रवाई की जा रही है।

बता दें कि पिछले साल केरल में एक कॉलेज स्टूडेंट ने आठ सालों से रे’प करने वाले कोलम स्थित पनमाना आश्रम के स्वामी गंगेशानंद का प्राइवेट पार्ट काट दिया था।  छात्रा ने आरोप लगाया था कि स्वामी आठ साल पहले से उसके साथ रे’प कर रहा है जब वह बारहवी कक्षा में थी।

Loading...