rapid

rapid

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में मंदिर के भीतर मांस फेंकने की अफवाह के चलते दत्तापुकुर के चलताबेरिया इलाके में सांप्रदायिक तनाव फ़ैल गया.

मंदिर के मांस फेकने की खबर के बाद लोगों ने जमकर नारेबाजी की, लेकिन किसी भी तरह की सांप्रदायिक हिंसा की खबर अभी तक नहीं आई है. जिसके बाद रेपिड एक्शन फोर्स (आएएफ) को मौके पर रवाना कर इलाके में धारा 144 के तहत कर्फ्यू लगा दिया गया.

पूरे घटनाक्रम पर पुलिस का कहना है कि यहां के हालात पर काबू पा लिया गया है, शांति कायम रहे इसलिए पुलिसबल भी तैनात है. हालांकि पुलिस अधिकारी मंदिर में मांस फेंके जाने की खबर की पुष्टि नहीं कर सके. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

ध्यान रहे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इससे पहले होली के मौके पर उत्तरी 24 परगना और बांग्लादेश से सटे जिलों को संवेदनशील मानते हुए यहां पुलिस को हाई अलर्ट पर रहने को कहा था. क्योंकि पिछले वर्ष यहां से 40 किलोमीटर दूर बदूरिया इलाके में दो समुदाय के बीच सांप्रदायिक तनाव मे एक व्यक्ति की मौत हो गई थी.

उन्होंने कहा था कि शरारती तत्व त्योहार के मौके पर परेशानी पैदा करेंगे. उन्होंने उत्तर प्रदेश और राजस्थान से बांग्लादेश में की जा रही पशु तस्करी को रोकने के लिए कहा था.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें