कांग्रेस के एक लीडर ने आरएसएस चीफ मोहन भागवत पर इलज़ाम लगाया है की उन्होंने स्विस बैंक में ब्लैक मनी छिपा रखा है। व्हाटसएप पर ये मैसेज पोस्ट करने के बाद उज्जैन के कांग्रेस लीडर को गिरफ्तार कर लिया गया, बाद में उनको ज़मानत मिल गयी।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, माहिदपुर मुन्सिपल कारपोरेशन के सदर कयूम नागोरी ने whatsapp पर लिखा था की भागवत उन भारतीयों में शामिल हैं, जिन्होंने स्विस बैंक में ब्लैक मनी छिपा रखा है। नागोरी को इत्तिला तकनीक कानून की दफा 66ए और दफा 294 और 506 के तहत गिरफ्तार किया गया था।

व्हट्सअप पर मैसेज वायरल होने के बाद बीजेपी और संघ के कार्कुनान माहिदपुर पर देर रात जमा हो गए और नागोरी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करने लगे। बीजेपी लीडर विजय चौधरी की तहरीरी शिकायत पर पुलिस ने नागोरी के खिलाफ मामला दर्ज किया। नागोरी ने अपनी गलती कुबूल करते हुए कहा की मैसेज पढ़े बिना ही उसे एक व्हाट्सअप ग्रुप से दुसरे पर शेयर कर दिय। भाई उनके बोलेन और ज़ाहिर करने की आजादी का क्या? (hindkhabar.in)

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?