Wednesday, December 1, 2021

गौमाता का चारा भी खा गए गोभक्त, गौ सेवा आयोग सदस्य ने 13 लाख रु का किया गबन

- Advertisement -

गौसेवा के नाम पर देश के नागरिकों की खून-पसीने की कमाई को गायों के चारा-पानी में बेतहाशा बहाया जा रहा है, बावजूद आज भी हर जगह गाये सड़कों पर भूखी-प्यासी घुमती फिरती रहती है. वजह सेवा के नाम पर होने वाला गौरखधंधा. जिसमे लाखों का घोटाला हो रहा है.

ताजा मामला हरियाणा का है. हरियाणा गौसेवा कल्याण बोर्ड के पूर्व प्रमुख योगेंद्र ने गौसेवा के नाम पर 13 लाख रु का गबन किया है. याद रहे हरियाणा गौसेवा कल्याण बोर्ड पुरे राज्य में गौशाला चलाता है. हरियाणा गौसेवा कल्याण बोर्ड का बजट करोड़ों में है.

इस का खुलासा करीब एक महीने पहले हरियाणा के कुरुक्षेत्र में 35 गायें मर जाने के बाद हुआ था. इन गायों की मौत भूख और प्यास की वजह से हुई थी. इस दौरान योगेंद्र आर्य ने गौशाला संघ के बैंक खाते से 11.68 रुपये निकाले. आर्य पर गौशाला के लिए चंदे के रूप में इकट्ठा हुए 1.12 लाख रुपये न जमा करने का भी आरोप है.

आर्य साल 2012 में वो आर्य समाज द्वारा चलाए जाने वाले हरियाणा राज्य गौशाला संघ के प्रमुख थे. गौशाला संघ पूरे हरियाणा में करीब 225 गौशालाएं चलाता है. योगेंद्र आर्य के खिलाफ मामला गौशाला संघ के वर्तमान प्रमुख शमशेर सिंह आर्य ने दर्ज कराया है.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles