Wednesday, December 1, 2021

मनकामेश्वर मंदिर में दिखा अद्भुत नजारा, पुजारियों ने रोज़दारों को परोसी इफ्तारी

- Advertisement -

लखनऊ स्थित मनकामेश्वर मंदिर में एकता की अनूठी मिसाल पेश करते हुए रमजान के इस पाक महीने मे 500 से ज्यादा मुस्लिम रोजेदारों को इफ्तार कराया गया। पहली बार हिंदुओें के इस प्रमुख धार्मिक स्थल पर इफ्तार का आयोजन किया गया।

इफ्तार की खास बात ये रही कि इसमे हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी धर्मों के लोगों ने हिस्सा लिया। इफ्तारी के दौरान मंदिर के पुजारी रोजदारों को प्रेम पूर्वक इफ्तारी परोसते नजर आए। इफ्तार के बाद रोजदारों ने घाट पर मगरिब की नमाज भी अदा की।

इस दौरान महंत दिव्यगिरी ने कहा, ‘सभी धर्म प्रेम और भाईचारे का संदेश देते हैं. कई बार मुस्लिम भी कन्या पूजन का आयोजन करते हैं और बड़ा मंगल स्टॉल भी लगाते हैं.’ महंत दिव्यगिरी मंदिर की पहली महिला मुख्य पुजारी हैं.

उन्होंने कहा, “पुजारियों, इमाम और महंतों को अपना काम करना चाहिए. उन्हें भाईचारे और शांति का संदेश देना चाहिए. सुबह से शाम तक उपवास रखने वालों की सेवा करना एक पवित्र काम है.”

महंत दिव्यगिरी ने बताया, ‘हमारे तीन रसोइयों ने सुबह से ही इफ्तार की तैयारी शुरू करत दी थी. यह अपनी तरह की पहली इफ्तार थी जिसमें 500 से ज्यादा लोगों के आने की उम्मीद थी. यह ऐतिहासिक था और यह शहर के सौहार्दपूर्ण परंपरा को बढ़ावा देने वाला था.’

जा इफ्तार में ऐशबाग ईदगाह के नायाब इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली के साथ ही मौलाना सुफियान निजामी, नवाब मीर जाफर अब्दुल्लाह, समेत कई लोग मौजूद रहे।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles