Thursday, December 9, 2021

बाढ़ में लोगों को फंसे देखा तो मदद के लिए मुस्लिमों ने खोल दिए मस्जिदों के दरवाजें

- Advertisement -

सभी धर्मों में इंसानियत और मानवता की सेवा पर जोर दिया गया. इंसान ही इंसान की सेवा के लिए बना है. ये हर धर्म की किताब में लिखा है. इसी पर तर्जे अमल करते हुए रायसेन के मुस्लिमों ने मिसाल पेश की है.

मामला मध्यप्रदेश के रायसेन का है. शहर में मुसलाधार बारिश होने के कारण हालात बाढ़ के बन गए. जिसके चलते शहर का विदिशा और भोपाल – सागर मार्ग सहित आसपास के सभी गांवों से रायसेन का संपर्क कट गया था. साथ ही रीछन नदी उफान पर होने से बुंदेलखंड को राजधानी भोपाल से जोड़ने वाला मुख्य मार्ग भी बंद हो गया.

ऐसे में बाहर के यात्री शहर में फंस गए. भूखे-प्यासे और पानी भीगते यात्रियों को जब मुस्लामानो ने परेशान होते देखा तो उन्होंने शहर की सभी मस्जिदों को यात्रियों के लिए खोल दिया. साथ ही ऐलान किया कि मस्जिदें हर मज़हब के लिए हैं तमाम भाई यहाँ आराम कर सकते हैं.

इसके साथ यात्रियों के लिए मुस्लिमों ने खाने-पीने की व्यवस्था की. बच्चों के लिए दूध का इंतजाम किया. साथ ही भीगे लोगों के लिए कपड़ों की भी व्यवस्था भी की.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles