Monday, October 18, 2021

 

 

 

राशन कार्ड के बदले लुटी थी महिला की अस्मत, ग्राम प्रधान-सचिव सहित 13 को हुआ एड्स

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है. जहाँ राशन कार्ड बनाने के बदले एक महिला की इज्जत का सौदा किया गया. जिसके बदले अब ग्राम प्रधान-सचिव सहित 13 लोग एड्स की गंभीर बिमारी से ग्रस्त हो गए.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, गोरखपुर के भटहट ब्लॉक की 28 वर्षीय महिला की छह साल पहले शादी हुई थी. शादी के तीन साल बाद ही वह पति की मौत के चलते विधवा हो गई. विधवा को पति की मौत के बाद न तो ससुराल से और नही मायके से कोई मदद मिली.

जिसके बाद महिला अपने गुजर-बसर के लिए बीपीएल राशन कार्ड बनवाने के लिए रोजगार सेवक से मिली. जिसने उसे ग्राम प्रधान से मिलवाया. राशन कार्ड और विधवा पेंशन दिलाने के बदले ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी सहित कुल 13 लोगों ने राशऩ कार्ड और  महिला का शारीरिक शोषण किया.

इसी बीच महिला बीमार हो गई और उसका ब्लड टेस्ट हुआ जिसमे पता चला कि वह एचआईवी संक्रमित है. इस बात की खबर ग्राम प्रधान तक पहुंची तो महिला का बीआरडी मेडिकल कॉलेज में फिर से ब्लड टेस्ट हुआ. इस बार भी वह एचआईवी संक्रमित ही पाई गई.

ऐसे में महिला का शारीरिक शोषण करने वालों में हड़कंप मच गया. चिकित्सकों की सलाह पर रोजगार सेवक, ग्राम प्रधान सहित 13 लोगों ने मेडिकल कॉलेज के एआरटी सेंटर पर जांच कराई तो पता चला कि सभी एचआईवी पॉजिटिव हैं. दैनिक हिंदुस्तान में छपी रिपोर्ट के एआरटी सेंटर के कर्मियों नेकी काउंसिलिंग के दौरान महिला ने पूरी कहानी सुनाई कि किस तरह राशन कार्ड और विधवा पेंशन का झांसा देकर 13 लोगों ने अस्मत लूटी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles