मेरठ: यूपी में बीजेपी की सत्ता आने के साथ ही अब विहिप राम मंदिर निर्माण के मुद्दें पर अब इंतजार नहीं करना चाहती हैं. विहिप की और से स्पष्ट तौर पर कहा गया कि बीजेपी अब बहानेबाजी छोड़कर मंदिर निर्माण की तारीख घोषित करे.

गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के प्रांत मीडिया प्रभारी शैलेंद्र चौहान और बजरंग दल के प्रांत संयोजक बलराज डूंगर ने कहा कि मंदिर निर्माण को लेकर बीजेपी अब हिंदुओं के सब्र की और परीक्षा नहीं ले सकती. साथ ही उन्होंने सरयू के दुसरे किनारे बाबरी मस्जिद के निर्माण के प्रस्ताव को भी नकार दिया हैं.

उन्होंने बीजेपी के समझोता प्रस्ताव को नकारते हुए मंदिर की पुरानी शिलाओं से ही निर्माण किए जाने, अयोध्या में किसी मस्जिद का निर्माण न किए जाने और देश में बाबर के नाम पर किसी मस्जिद का नाम नहीं रखे जाने की मांग भी की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने अयोध्या में किसी मस्जिद के निर्माण को सिरे से खारिज करते हुए कहा, ‘बाबर द्वारा ध्वस्त किए गए रामलला के जन्म स्थान को मुक्त कराने के लिए कई सदियों से अब तक लाखों हिंदू अपने प्राणों का बलिदान दे चुके हैं राम, भारत की आस्था और आत्मा हैं, इसलिए उनके अस्तित्व को चुनौती देना सरासर मूर्खतापूर्ण हरकत और हिंदू भावनाओं का अपमान करना है.

Loading...