rajasamad

rajasamad

राजस्थान के राजसमंद में हेट क्राइम के चलते मारे गए मुस्लिम बुजुर्ग मुहम्मद अफ्जरुल के मामले में परिजनों ने इस पुरे मामले की सुनवाई राजस्थान के बाहर करने की मांग उठाई है.

भगवा संगठनों द्वारा पहलू खान सहित पिछले मामलों को प्रभावित करने की वजह परिजनों ने ये मांग उठाई. साथ ही सुरक्षा को लेकर भी राजस्थान के बाहर मामले की सुनवाई पर जोर दिया. अफराज़ुल की पत्नी गुल बहार बीबी ने कलकत्ता उच्च न्यायालय या सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने की भी बात कही.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तृणमूल कांग्रेस के कानूनी सेल ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देशों पर अफ्जरुल के परिजनों से मुलाक़ात की. उन्होंने बताया कि हम ममता बनर्जी के निर्देशों पर आए हैं अफराज़ुल के परिवार के सदस्यों को डर है कि अगर वे राजस्थान में जाते हैं तो उनका जीवन खतरे में पड़ जाएगा. वे यह नहीं चाहते कि राजस्थान में मामले की सुनवाई हो.

उन्होंने बताया कि हमने परिवार के सदस्यों के साथ चर्चा की है हम इस मुद्दे पर कलकत्ता उच्च न्यायालय में अपील दर्ज करने में मदद करेंगे. यदि आवश्यक हो, तो हम सुप्रीम कोर्ट में उनकी याचिका दायर करने में भी मदद करेंगे. साथ ही इस मामले में मानवाधिकार आयोग में भी शिकायत दर्ज की जाएगी.

तृणमूल कांग्रेस के कोर कमेटी के सदस्य और पश्चिम बंगाल बार काउंसिल के पूर्व अध्यक्ष आसित बसु ने कहा, हम पश्चिम बंगाल मानवाधिकार आयोग के साथ एक शिकायत भी दर्ज करेंगे.

Loading...