इलाहाबाद. बीजेपी के नये प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या का विरोध करना भाजपा नेत्री को महंगा पड़ा। बीजेपी महिला मोर्चा मंत्री राजेश्वरी पटेल को अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी ने 10 साल के लिए निलंबित कर दिया है।
 राजेश्वरी पटेल ने केशव मौर्या पर कई गंभीर आरोप लगाये थे। राजेश्वरी पटेल ने जिला अध्यक्ष सुमन गोस्वामी को लिखे पत्र में केशव मौर्या को अध्यक्ष बनाये जाने को लेकर नाराजगी जताई थी और कहा था कि इससे पार्टी की साफ- सुथरी छवि को नुकसान होगा।
सुमन गोस्वामी ने आज राजेश्वरी पटेल को अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया। सुमन गोस्वामी ने कहा कि निजी स्वार्थ के लिए राजेश्वरी पटेल ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पर आरोप लगाए। (patrika.com)
मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?